More

    Latest Posts

    Zomato का तिमाही घाटा हुआ कम, 67% बढ़ गया कंपनी का रेवेन्यू

    ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लैटफॉर्म जोमैटो (Zomato) का जून 2022 तिमाही में घाटा कम हुआ है। अप्रैल-जून 2022 तिमाही में जोमैटो का कंसॉलिडेटेड लॉस घटकर 185.7 करोड़ रुपये रहा है। पिछले साल की समान अवधि में जोमैटो का लॉस (घाटा)  356.2 करोड़ रुपये था। जून 2022 तिमाही से पहले के क्वॉर्टर में जोमैटो को 359.7 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। जोमैटो के शेयर सोमवार 1 अगस्त को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में 1.07 पर्सेंट की गिरावट के साथ 46.35 रुपये पर बंद हुए हैं। 

    67 पर्सेंट से ज्यादा बढ़ गया जोमैटो का रेवन्यू 
    वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में जोमैटो का कंसॉलिडेटेड रेवेन्यू 1,413.9 करोड़ रुपये रहा। पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले जोमैटो का रेवेन्यू 67.44 पर्सेंट बढ़ा है। पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में जोमैटो का रेवेन्यू 844.4 करोड़ रुपये था। वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 1,211.8 करोड़ रुपये था। कंपनी ने फूड डिलीवरी बिजनेस में लॉसेज को रिकवर किया है। 

    यह भी पढ़ें- केमिकल स्टॉक पर लगा अपर सर्किट, इस साल 85% से ज्यादा चढ़ा है यह शेयर

    इस साल अब तक 67% गिर गए हैं जोमैटो के शेयर
    इस साल अब तक जोमैटो के शेयरों में 67 पर्सेंट से ज्यादा की गिरावट आई है। साल की शुरुआत में 3 जनवरी 2022 को जोमैटो के शेयर 141.35 रुपये के स्तर पर थे। जोमैटो के शेयर 1 अगस्त 2022 को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में 46.50 रुपये के स्तर पर बंद हुए हैं। पिछले 6 महीने में जोमटो के शेयरों में 53 फीसदी की गिरावट आई है। वहीं, पिछले 1 महीने में जौमैटो के शेयर करीब 15 फीसदी लुढ़क गए हैं।   

    यह भी पढ़ें- तिमाही नतीजों के बाद रॉकेट बना यह शेयर, राकेश झुनझुनवाला ने भी लगाया है पैसा 

    Latest Posts

    Don't Miss