More

    Latest Posts

    5G Spectrum: दूसरे दिन 1.49 लाख करोड़ रुपये की बोलियां, ब्रोकरेज ने बताया अडानी की योजना

    देश में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी के लिए बुधवार को दूसरे दिन 1.49 लाख करोड़ रुपये की बोलियां आईं। मुकेश अंबानी, सुनील भारती मित्तल और गौतम अडानी की कंपनियों के साथ-साथ वोडाफोन आइडिया ने बोली के पहले दिन मंगलवार को 1.45 लाख करोड़ रुपये की बोली लगाई थी। बुधवार को पांच दौर की नीलामी में रेडियो तरंगों की अतिरिक्त मांग आई।

    दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, ‘‘नीलामी में बोली में रखे गये सभी बैंड के लिये अच्छी प्रतिस्पर्धा देखने को मिली…नौवें दौर की बोली की समाप्ति पर 1,49,454 करोड़ रुपये की बोलियां आईं।’’ विश्लेषकों ने कहा कि बोली में शामिल कंपनियों में अंबानी की रिलायंस जियो सबसे आक्रमक तरीके से बोली लगा सकती है। 

    मंत्री ने कहा कि सभी बैंड के स्पेक्ट्रम की अच्छी मांग देखने को मिल रही है। हालांकि अभी बोलियों के ब्योरे की घोषणा नहीं हुई है लेकिन आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज ने कहा कि उसके विश्लेषण के अनुसार जियो सबसे अधिक 80,100 करोड़ रुपये मूल्य के स्पेक्ट्रम के लिये बोली लगा सकती है। कंपनी प्रीमियम 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में 10 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम का चयन कर सकती है। 

    भारती एयरटेल 1800 मेगाहर्ट्ज और 2100 मेगाहर्ट्ज बैंड में संभवत: 45,000 करोड़ रुपये मूल्य के स्पेक्ट्रम के लिये बोली लगा सकती है। यह उम्मीद से 20 प्रतिशत अधिक है। वोडाफोन आइडिया लिमिटेड 18,400 करोड़ रुपये मूल्य के स्पेक्ट्रम तथा अडानी डाटा नेटवर्क्स पूरे देश में 26 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के लिये बोली लगा सकती है।

    आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज ने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि अडानी ने दिल्ली और कोलकाता को छोड़कर 20 सर्किल में 26 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के लिये बोली लगायी है। कंपनी की कुल स्पेक्ट्रम खरीद 900 करोड़ रुपये मूल्य की 3350 मेगाहर्ट्ज हो सकती है। हमारा अनुमान अस्थायी है क्योंकि आंकड़ा अभी अडानी की पूरी खरीद को नहीं बता रहा। हमारा मानना है कि उसे गुजरात को छोड़कर सभी सर्किल के लिये 200 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम खरीदने चाहिए। गुजरात में उसने 400 मेगाहर्ट्ज खरीदा होगा।’’

    Latest Posts

    Don't Miss