More

    Latest Posts

    बजाज फाइनेंस को 2596 करोड़ रुपये का मुनाफा, अब तक का सबसे ज्यादा प्रॉफिट

    बजाज फाइनेंस (Bajaj Finance) को जून 2022 तिमाही में 2,596 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले बजाज फाइनेंस का नेट प्रॉफिट 159 पर्सेंट बढ़ा है। यह नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी (NBFC) का अब तक का सबसे ज्यादा मुनाफा है। पिछले साल की समान अवधि में बजाज फाइनेंस को 1002 करोड़ रुपये का प्रॉफिट हुआ था। बजाज फाइनेंस के शेयर बुधवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) में 2.14 पर्सेंट की तेजी के साथ 6393.75 रुपये के स्तर पर बंद हुए हैं।    

    नेट इंटरेस्ट इनकम में 48% का इजाफा
    अप्रैल-जून 2022 तिमाही में बजाज फाइनेंस की नेट इंटरेस्ट इनकम 48 पर्सेंट बढ़कर 6,638 करोड़ रुपये रही। पिछले साल की पहली तिमाही में बजाज फाइनेंस की नेट इंटरेस्ट इनकम 4,489 करोड़ रुपये थी। फाइनेंशियल ईयर 2023 की पहली तिमाही के दौरान बजाज फाइनेंस के नए लोन्स 60 पर्सेंट बढ़कर 7.42 मिलियन पहुंच गए। 30 जून 2022 तक बजाज फाइनेंस का एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 28 पर्सेंट बढ़कर 204018 करोड़ रुपये रहा। 

    यह भी पढ़ें- SpiceJet पर बड़ा एक्शन, आठ हफ्ते के लिए 50% उड़ान सेवाओं पर लगी रोक

    जून तिमाही में 1.25% रहा बजाज फाइनेंस का ग्रॉस NPA
    फाइनेंशियल ईयर 2023 की पहली तिमाही के लिए बजाज फाइनेंस का लोन लॉस और प्रोविजंस 775 करोड़ रुपये रहे, जो कि पिछले साल की समान अवधि में 1,750 करोड़ रुपये थे। अगर एसेट क्वॉलिटी की बात करें तो जून 2022 तिमाही में बजाज फाइनेंस का ग्रॉस NPA और नेट NPA क्रमशः 1.25 पर्सेंट और 0.51 पर्सेंट रहा। स्टैंडअलोन बेसिस पर बजाज फाइनेंस का नेट प्रॉफिट जून 2022 तिमाही में 2356 करोड़ रुपये रहा। पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले इसमें 179 पर्सेंट का उछाल आया है। पिछले साल की समान अवधि में स्टैंडअलोन बेसिस पर NBFC का नेट प्रॉफिट 843 करोड़ रुपये था। 

    यह भी पढ़ें- सरकारी कंपनी का बड़ा तोहफा, हर 2 शेयर पर मिलेगा 1 बोनस शेयर

    Latest Posts

    Don't Miss