More

    Latest Posts

    कमजोर रुपया, महंगाई का असर, नए रिकॉर्ड पर पहुंचा देश का व्यापार घाटा

    महंगाई और रुपये में गिरावट का असर देश के व्यापार घाटे पर दिखा है। जुलाई में देश का व्यापार घाटा तीन गुना बढ़कर 31.02 अरब डॉलर हो गया। वहीं, जुलाई 2021 में व्यापार घाटा 10.63 अरब डॉलर था। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार जुलाई 2022 में आयात बढ़कर 66.26 अरब डॉलर पर पहुंच गया, जो पिछले साल इसी महीने में 46.15 अरब डॉलर था।

    वाणिज्य सचिव बीवी आर सुब्रह्मण्यम ने व्यापार आंकड़ों का ब्योरा देते हुए बताया कि  कमोडिटी की कीमतें और रुपये में गिरावट ने आयात बिल को बढ़ा दिया है। जुलाई के ताजा आंकड़े जारी होने से पहले देश का व्यापार घाटा जून में भी रिकॉर्ड स्तर पर ही था। आपको बता दें कि जुलाई महीने में भारतीय करेंसी रुपया काफी कमजोर हुआ था। यह प्रति डॉलर 80 के स्तर को भी पार कर लिया। इस वजह से आयात पर खर्चे बढ़ गए और व्यापार घाटा में इजाफा हो गया।

    निर्यात कितना हुआ: वित्त वर्ष के पहले चार महीनों में 156.41 अरब डॉलर का निर्यात हुआ है। आर सुब्रह्मण्यम  के मुताबिक इससे पता चलता है कि हम चालू वित्त वर्ष में 470 अरब डॉलर के निर्यात का आंकड़ा आसानी से हासिल करने की राह पर हैं। आंकड़ों के अनुसार, पिछले माह सोने का आयात लगभग आधा घटकर 2.37 अरब डॉलर रह गया, जो एक साल पहले इसी महीने में 4.2 अरब डॉलर था।

    ये पढ़ें-Axis ने क्रेडएबल में खरीदी हिस्सेदारी, Yes बैंक की 24 अगस्त को अहम बैठक

    Latest Posts

    Don't Miss